रिक्शेवाला का बेटा ऐसे बना आईएएस ऑफिसर

आज हम एक ऐसे आईएएस ऑफिसर की सफलता के कहानी बताने जा रहे हैं, 

जिनकी UPSC की तैयारी के लिए घर के सारी सम्पति बेचनी पड़ गई थी। 

आर्थिक स्थिति इतनी ख़राब हो गई थी कि उनके पिता को रिक्शा तक चलना पड़ गया था। 

हम जिस आईएएस ऑफिसर की बात कर रहे हैं उनका नाम हैं गोविन्द जैसवाल।

 इन्होने अपने घर के स्थिति को अच्छी तरह से समझा और देश के सबसे कठिन परीक्षा UPSC को महज 22 साल के उम्र में क्रैक कर दिया। 

मात्र 22 साल के उम्र में ऑल इंडिया रैंक 48वीं प्राप्त कर आईएएस ऑफिसर बने।

बता दे कि गोविन्द का पुरा परिवार वाराणसी उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। 

बेटे को आईएएस ऑफिसर बनाने के लिए इनके पिता ने जी तोड़ मेहनत की थी। 

पढ़े आईएएस सोनल गोयल की सम्पूर्ण जीवनी