ऐसे बहुत कम लोग होते हैं जो बड़े देखते हैं और उसे हक़ीक़त में बदल देते हैं।

 हम बात कर रहे आईएएस प्रदीप सिंह के बारे में। प्रदीप सिंह UPSC एग्जाम 2019 में रैंक 1 प्राप्त करके आईएएस बने थे।

प्रदीप हरियाणा के सोनीपत जिले के गनौर के रहने वाले हैं। इनका जन्म साल 1991 में हुआ था। 

जब UPSC का रिजल्ट आया था तब ये रेस्ट कर रहे थे। 

उनके दोस्त ने उन्हें फ़ोन करके यह जानकारी दी कि तुमने UPSC टॉप कर लिया हैं।

जब प्रदीप ने यह बात अपने पिता को बताया तब उन्हें बिल्कुल भी विश्वास नहीं हो रहा था। 

आपको बता दे कि आईएएस प्रदीप सिंह के पिता का नाम सुखबीर सिंह हैं। 

2019 के UPSC टॉपर आईएएस प्रदीप सिंह का कहना हैं कि मुख्य परीक्षा पास करने के लिए कैंडिडेट को राइटिंग स्किल ऊपर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। 

इंटरव्यू राउंड के लिए व्यक्ति को इंटरपर्सनल स्किल पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

प्रदीप आगे कहते हैं कि कई बार मुझे फुल टाइम जॉब के साथ - साथ पढ़ाई करना मुश्किल हो जाता था।

कई बार मैंने UPSC की तैयारी बंद करने के बारे में भी सोचा लेकिन मेरे पिता हमेशा मुझे प्रेरित करते रहे और लगातार धैर्य न खोने की बात करते रहे।  

टीना डाबी के वजह से खिल गया इस व्यक्ति का चेहरा